104 HÜMEZE

  • 104:1

    तबाही है हर कचो के लगानेवाले, ऐब निकालनेवाले के लिए,

  • 104:2

    जो माल इकट्ठा करता और उसे गिनता रहा

  • 104:3

    समझता है कि उसके माल ने उसे अमर कर दिया

  • 104:4

    कदापि नहीं, वह चूर-चूर कर देनेवाली में फेंक दिया जाएगा,

  • 104:5

    और तुम्हें क्या मालूम कि वह चूर-चूर कर देनेवाली क्या है?

  • 104:6

    वह अल्लाह की दहकाई हुई आग है,

  • 104:7

    जो झाँक लेती है दिलों को

  • 104:8

    वह उनपर ढाँककर बन्द कर दी गई होगी,

  • 104:9

    लम्बे-लम्बे स्तम्भों में

Paylaş
Tweet'le